Product on sale

Sangeetmaya Satya Narayan Katha – संगीतमय सत्यनारायण ब्रत कथा

2,100

भगवान सत्यनारायण की कथा घर मे अन्न धन के भण्डार भर देती है। माता लक्ष्मी की उसपर सदा कृपा रहती है। भगवान सत्यनारायण की कथा बन्धुजनों को सुख देने वाली तथा प्रेम-स्नेह बढाने वाली है। घर परिवार मे सुख- समृद्धि देने वाली है। संतान, यश, कीर्ति, वैभव, पराक्रम, सम्पत्ति, ऐश्वर्य सौभाग्य और शुभता प्राप्त होती है।

टीम : २ व्यक्ति

नोट: टीम के आने-जाने व रहने का व्यय आयोजक को करना होगा।

  • Check Mark Estimated Delivery : Up to 4 business days
  • Check Mark Free Shipping & Returns : On all orders over $200
  • Visa Card
  • MasterCard
  • American Express
  • Discover Card
  • PayPal
  • Apple Pay
Guaranteed Safe And Secure Checkout

संगीतमय सत्यनारायण ब्रत कथा

वास्तव मे सत्य ही नारायण है। सत्य को साक्षात भगवान मानकर सत्य व्रत को जीवन मे उतारना ही सतयनारायण व्रत कथा का प्रमुख उद्देश्य है। इस कथा से एक सदेश स्पष्ट रूप से उभरता है कि यदि मनुष्य अपने जीवन मे सत्य का निष्ठा पूर्वक पालन करे तो उसे इस लोक और परलोक मे सच्चे सुख की प्राप्ती होती है। और जो सत्य का पालन नही करता वह इस लोक मे तो कष्ट उठाता ही है मृत्यु के वाद भी अनेकानेक कष्टों को भोगता है।

अपने जीवन मे सत्य व्रत को अपनाने वाला मनुष्य धन-धान्य से परिपूर्ण हो जाता है। भगवान सत्यनारायण की कथा घर मे अन्न धन के भण्डार भर देती है। माता लक्ष्मी की उसपर सदा कृपा रहती है। भगवान सत्यनारायण की कथा बन्धुजनों को सुख देने वाली तथा प्रेम-स्नेह बढाने वाली है। घर परिवार मे सुख- समृद्धि देने वाली है। संतान, यश, कीर्ति, वैभव, पराक्रम, सम्पत्ति, ऐश्वर्य सौभाग्य और शुभता प्राप्त होती है।

भगवान सत्य नारायण की कथाकराने से पूर्वजों को भी शान्ति व मुक्ति मिलती है। वे प्रसन्न होकर आशीर्वाद देते है।